How Cola Drinks Harm Us | कोला पीने कें दुष्परिणाम

How Soft Drinks Kill Slowly

 

Coke, Sprite, Fanta, और Pepsi जैसें carbonated soft drinks regularly पीनेसे, आपकें शरीर को भारी नुकसान पहुँच सकता है|

आज मैं आपको कुछ ऐसीं बातें बताने जा रहा हूँ, जिससे, आपकें होश उड़ सकते हैं!

किसी भी soft drink के can में, on an average, १० teaspoon शक्कर मौजूद होती हैं| Published biomedical research के अनुसार, इतनी भारी मात्रा में शक्कर का सेवन regularly करनेसे, शरीर type-2 diabetes जैसी खतरनाक बीमारी का शिकार हो सकता हैं| Soft drinks में मिलाया गया phosphoric acid (जिससे drinks का pH 2.5, या उससे भी नीचे जा सकता है), आपकें bones को निकम्मा बनाकर, उनमें osteoporosis जैसीं गंदी बीमारी पैदा कर सकता हैं| यही phosphoric acid आपकें दातों का protective enamel coating आसानी से destroy करके उनमें dental cavities पैदा कर सकता है| Soft drinks में मिलाया गया caffeine एक ऐसा शक्तिशाली (psychoactive) compound है, जो आपके brain receptors को permanently alter करने की क्षमता रखता है! Diet soda में इस्तेमाल कियें जानेवालें aspartame, sachharine, इत्यादि artifical sweeteners, published scientific research के अनुसार, cancer या ह्रदयरोग की बीमारी पैदा कर सकतें हैं!

In summary, soft drinks के regular सेवन से आपका शरीर पूरी तरह से कमजोर बन सकता हैं, और आपको मौत का बुलावा जल्दी आ सकता हैं! Let us stop drinking these extremely poisonous toxins immediately. जय हिंद!

Do share this video on LinkedIn, Twitter, Facebook, and YouTube. Thanks for your time!

Need a professionally created video for promoting your service, product, event, or something else? Let https://videonium.com help you.

#cola #health #disease

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.